Home Google ka Real name kya hai Google ka Real name kya hai

Google ka Real name kya hai

0

Google ka real name kya hai ?

गूगल का रियल नाम क्या है, जानिए हिंदी में.

नमस्कार दोस्तों कैसे हो स्वागत करती हूं आपका हमारी वेबसाइट के आज के इस नए आर्टिकल Google ka real name kya hai ? यदि आप भी गूगल के रियल नाम के बारे में और गूगल के बारे में बहुत सारी जानकारी लेना चाहते हो, तो आज के साथ ही कल को शुरू से लेकर अंत तक ध्यान पूर्वक पढ़ते रहिए।

दोस्तों गूगल विश्व का सबसे बड़ा सर्च इंजन है। इसके बारे में तो आप अवश्य जानते होंगे। लेकिन गूगल की शुरुआत कब हुई और गूगल का रियल नाम क्या है, इसके बारे में आप में से ज्यादातर लोगों को जानकारी नहीं होगी। इसलिए आज के इस आर्टिकल में हम आप सभी को गूगल के शुरुआत से लेकर गूगल के रियल नाम और गूगल की संपूर्ण जानकारी विस्तार से बताएंगे। इसलिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें। 

गूगल की शुरुआत तब हुई ?

गूगल की शुरुआत सन 1996 एक रिसर्च परियोजना के दौरान की गई, गूगल की शुरुआत लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन जब लैरी पेज और सर्गई ब्रिन एक विश्वविद्यालय में पीएचडी के छात्र थे। 

दोस्त आपको पता नहीं होगा, लेकिन आपको बता दें कि गूगल का असली नाम “बैकरब” है, और गूगल को वर्तमान समय में एक दुर्घटना के अनुसार नाम मिला है। गूगल के संस्थापक गूगल का नाम लिखते समय ऐसा गलती कर दी जिसकी वजह से आज गूगल का नाम गूगल रखा गया है। 

दोस्तों गुगल के 1 अंक के बाद 100 शून्य आया करते थे, और एक रिसर्च के अनुसार पता चला है, कि गूगल प्रत्येक मिनट में 2 मिनट क्या करता है, और प्रत्येक दिन गूगल पर 9:00 6% ऐसी खबरें खुद ही जाती है। जो गूगल के लिए नई होती है। 

गूगल का फुल फॉर्म क्या है ?

दोस्तों यह सुनकर आप चौक जायेंगे कि गूगल का कोई ऑफिशियल फुल फॉर्म नहीं है। और ना ही गूगल कभी भी अपने फुल फॉर्म का इस्तेमाल करता है। गूगल गणित के 1 शब्द से बना हुआ है जो शब्द है Googol इस शब्द का जो मतलब है वह है 100 जीरो के साथ 1।

लेकिन दोस्तों पर भी बहुत सारे लोग गूगल का फुल फॉर्म पूछते हैं या फिर कहीं पर पूछा जाता है तो उसके लिए यह फॉर्म गूगल की फुल फॉर्म मानी जाती है।

Google Full Form – Global Organization of Orientated Group Language of Earth

गूगल मेल का अविकार :-

गूगल 1 अप्रैल के दिन अपने कर्मचारियों को अप्रैल फूल बनाने के लिए मेल भेजा गया, और उसी दिन से गूगल मेल की भी शुरुआत हुई थी। गूगल अपने कर्मचारियों को स्वभाव से अच्छे कुत्तों को ऑफिस जाने की अनुमति भी देता है। गूगल का ऑफिस कोई भी खाने की किसी 100 से 240 फीट से ज्यादा दूरी पर नहीं है। 

गूगल मैप पानी में भी सेवा प्रदान करेगा :-

दोस्तों मैं आप का इस्तेमाल तो आप अपने जीवन में अवश्य करते हैं, और मैं भी एक गूगल का ही प्लेटफार्म है और अभी हमें यह जानकारी मिली है। कि गूगल मैप अब पानी के अंदर भी सेवा मुहिम करवाएगा, जिससे आप अंडर वाटर सी लाइफ का भी मैप के जरिए रास्ता ढूंढ सकते हैं। 

Conclusion :-

दोस्तों गूगल क्या है, और गूगल का रियल नाम क्या है। इसके बारे में आज हमने आपको विस्तार से जानकारी दी है। इसलिए हम उम्मीद करते हैं, कि आपको आज का यह आर्टिकल अवश्य पसंद आया होगा, और आज किस आर्टिकल में आपको कुछ अवश्य सीखने को मिला होगा।

दोस्तों हमारा यह आर्टिकल आपको पसंद आया तो इसे लाइक करें। अपने सभी दोस्तों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद नीचे कमेंट बॉक्स में अपना महत्वपूर्ण फीडबैक जरूर दें। यदि आपके मन में और कोई सवाल या सुझाव है आप हमें कमेंट करके बता सकते हो। मोबाइल की टिप्स एंड ट्रिक्स और टेक्नोलॉजी से अपडेटेड रहने के लिए आप चाहो तो हमें सोशल मीडिया पर फॉलो कर सकते हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here